Thursday , December 13 2018
Breaking News

शादी हेतु अनुदान योजना उत्तरप्रदेश | Shadi Anudan Yojana UP in hindi

शादी हेतु अनुदान योजना उत्तरप्रदेश | Shadi Anudan Yojana UP in hindi

समाज के गरीब तबको को उनकी बेटियों के विवाह में मदद करने के लिए उत्तरप्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव के समय यह योजना पहली बार शुरु हुई थी. इस योजना को उत्तरप्रदेश की तात्कालिक सरकार भी अच्छे से निर्वाह करने की कोशिश में लगी हुई है. इस योजना के अंतर्गत उत्तरप्रदेश सरकार इन परिवारों को उनकी बेटियों के विवाह के समय आर्थिक सहयोग करेगी, ताकि उन पर विवाह के आर्थिक खर्चे की ज़िम्मेवारी उठाने में आसानी हो. यहाँ पर आपको इस योजना से सम्बंधित सभी विशेष जानकारियां दी जा रही हैं.

shadi anudan yojana

शादी हेतु अनुदान योजना क्या है (What is Shadi Anudan Yojana in hindi)

ग़रीब परिवारों को अनुदान राशि देने की इस योजना के पीछे उत्तरप्रदेश सरकार का मुख्य उद्देश्य समाज में लड़कियों के जीवन को लेकर जागरूकता बढानी है. अक्सर देहात के लोगों में यह मानसिकता पायी जाती है कि लड़कियों से उनके परिवार पर बोझ बढ़ता है, जिससे भ्रूणहत्या जैसी कुरीतियाँ भी समाज में फ़ैल जाती है. इस वजह से सरकार चाहती है कि ऐसी मानसिकता समाप्त हो सके और लड़कियों को जीवन प्राप्त हो. साथ ही इन इलाकों में अक्सर बच्चियों का बाल विवाह करा दिया जाता है, इस योजना की सहायता से सरकार इस पर भी लगाम लगाना चाहती है.      

शादी हेतु अनुदान योजना के लिए योग्यता (Shadi Anudan Yojana Eligibility)

इस योजना का लाभ उठाने के लिये आवेदक को निम्नलिखित रूप से योग्य होना होगा.

  • यह योजना केवल उत्तरप्रदेश के नागरिकों के लिए है, अतः आवेदक के पास उत्तरप्रदेश के नागरिक होने का प्रमाण होना आवश्यक है.
  • आवेदक यदि गाँव इलाके का है तो उसके परिवार की सालाना आय अधिकतम रू. 46,080 और यदि शहर का है तो सालाना आय रू 56,460 का होना चाहिये.
  • इस योजना का लाभ अनुसूचित जाति, अनुसूचित जनजाति, ओबीसी, अल्पसंख्यक अथवा जनरल केटेगरी के लोग भी यदि ग़रीबी रेखा से नीचे हैं, तो उन्हें प्राप्त हो सकेगा.
  • इस योजना का मुख्य उद्देश्य महिला सशक्तिकरण है. अतः इस योजना के अंतर्गत लाभ उठाने का आवेदन एक युवती ही दे सकती है.

शादी हेतु अनुदान योजना के लिए कैसे आवेदन दें (How to Apply For Shadi Anudan Yojana)
इस योजना के अंतर्गत लाभ प्राप्त करने का आवेदन निम्नलिखित तरीक़े से दिया जा सकता है.

  1. सबसे पहले आपको इस योजना की औपचारिक वेबसाइट http://sspy-up.gov.in/rapv/vivahhetuanudaan/# पर जाकर ‘नया पंजीकरण’ का विकल्प चुनना होगा. इस विकल्प को चुनते ही आपके सामने एक नया टैब खुलेगा, जिसके अन्दर इस योजना का मुख्य फॉर्म रहेगा.
  2. इस फॉर्म के पहले भाग में आवेदक को अपनी समस्त मूल जानकारियाँ जैसे नाम, पता, कांटेक्ट डिटेल, ई मेल आदि भरनी होती है.
  3. एक बार यह फॉर्म भर जाने के बाद आवेदक को अपने आधार कार्ड का स्कैन किया गया कॉपी और उसकी तस्वीर अपलोड करनी होती है.
  4. इस फॉर्म के दूसरे भाग में विवाह सम्बंधित सभी जानकारियाँ देनी होती हैं. इस भाग में आवेदक को अपनी आयु प्रमाणपत्र, विवाह प्रमाणपत्र आदि अपलोड करना होता है.
  5. इस फॉर्म के तीसरे अंश में आवेदक के परिवार की आय की समस्त जानकारियाँ देनी होती है.
  6. इसके बाद इस फर्म के अंतिम हिस्से में आवेदक को अपने समस्त बैंक डिटेल देने होते हैं. यहाँ पर आवेदक को बैंक डिटेल के रूप में अपना अकाउंट नंबर, बैंक का नाम, आईएफ़एससी कोड और बैंक के पासबुक का स्कैन्ड कॉपी अपलोड करनी होती है,.
  7. उपरोक्त सभी चीजें भर देने के बाद आपको कैप्चा कोड भरने की आवश्यकता होती है, जिससे आपका आवेदन पूरा हो जाएगा.

शादी हेतु अनुदान योजना की विशेषताएँ (Shadi Anudan Yojana Features)

इस योजना की निम्नलिखित विशेषताएं हैं :

  • इस योजना की सहायता से सरकार ग़रीबो की मदद करना चाहती है. इस योजना के दारफ में यह लिखा गया है कि इस योजना के अंतर्गत लाभार्थी को उत्तर प्रदेश सरकार की तरफ से विवाह को पूर्ण रूप से सफ़ल बनाने के लिए निश्चित राशि प्राप्त होगी. इसके सहायता से स्त्रियाँ अपनी विवाह के लिए विभिन्न तरह की राशि का भुगतान कर सकेगी.
  • सरकार इस योजना के अंतर्गत लाभार्थी को विवाह के लिए कुल रू 20,000 और मेडिकल के तौर पर कुल रू 10,000 देगी.
  • इस योजना के सहारे सरकार गाँव क्षेत्र में होने वाले अवैध विवाहों को समाप्त करने की कोशिश करेगी. कई बार ग़रीब परिवार के लोग अपनी बेटियों का विवाह दहेज और वैवाहिक खर्चों से बचने के कारण अधिक उम्र के व्यक्ति से करा देते हैं. इस वजह से इस लड़कियों का जीवन बर्बाद हो जाता है. अतः इस योजना के तहत सरकार इसे रोकने की कोशिश करेगी.   
  • कई सामाजिक कारणों से महिलाओं को आगे नहीं बढ़ने दिया जा सकता है. अतः इस योजना की सहायता से सरकार उन्हें भविष्य में मार्गदर्शन देने का कार्य करेगी.

शादी हेतु अनुदान योजना में आवेदन देने हेतु आवश्यक दस्तावेज़ (Shadi Anudan Yojana Documents)

योजना का लाभ उठाने वाले लाभार्थी को कुछ विशेष दस्तावेज इस योजना के अंतर्गत सरकार के सामने लाने होंगे, जिनका वर्णन नीचे किया जा रहा है.

  • इस योजना के लिए सरकार ने आधार कार्ड को अनिवार्य बनाया है. इससे इस योजना के अंतर्गत किसी तरह की डुप्लीकेसी नहीं हो पाएगी और सरकार नियामित रूप से सभी लाभार्थी को लाभ पहुंचा सकेगी.
  • इस योजना के अंतर्गत आवेदक को अपना जातिगत प्रमाणपत्र दिखाने की आवश्यकता होती है. सरकार ने यह योजना पूर्ण रूप से ज़रूरतमंदों के लिए लागू की है. इसलिए इस योजना के अंतर्गत आवेदक को अपना जातिगत प्रमाणपत्र देना अनिवार्य होगा.
  • इस योजना का लाभ प्राप्त करने वाले आवेदक के परिवार का अधिकतम सालाना आय सरकार तय कर चुकी है. अतः इस योजना के अन्तर्गत आवेदक को अपने परिवार के सालाना आय का प्रमाण पत्र (इनकम सर्टिफिकेट) दिखाना होगा.
  • इस योजना के अंतर्गत आवेदन देते समय आवेदक को जन्म प्रमाण पत्र दिखाना भी अनिवार्य होगा. इस प्रमाणपत्र से यह तय होगा कि आवेदक की आयु 18 वर्ष से अधिक की है या नहीं.
  • इस योजना के अंतर्गत आवेदक को अपना मैरिज सर्टिफिकेट भी जमा करना पड़ेगा. यह एक अनिवार्य दस्तावेज़ है, जिसे यदि अपने आवेदन के साथ नहीं दिया गया तो आवेदन अमान्य हो जाएगा.
  • इस योजना के अंतर्गत आवेदक को अपना आवासीय प्रमाण पत्र भी देना होगा. चूँकि यह योजना सिर्फ उत्तर प्रदेश के लोगों के लिए है, अतः आवेदक को यह प्रमाणपत्र देकर प्रमाणित करना होगा कि वह उत्तर प्रदेश का रहने वाला है.
  • इस योजना का लाभ उठाने के लिए आवेदक के लिए यह अनिवार्य है कि वह अपने सारे बैंक डिटेल अपने आवेदन के साथ सरकार के पास जमा करे. यह इस वजह से अनिवार्य है कि सरकार योजना के अंतर्गत अपना अनुदान आवेदक के हाथ में न देकर उसके बैंक अकाउंट में जमा कराएगी. इस योजना के अंतर्गत आवेदक के हाथ में किसी तरह की राशि नहीं दी जायेगी.
  • इस योजना के अंतर्गत अपने आवेदन के तहत आवेदक को अपना ’डिसएबलिटी’ सर्टिफिकेट जमा करना होगा. यही आवेदक विधवा है तो उसे ‘विडो सर्टिफिकेट’ जमा करना पड़ सकता है.

शादी हेतु अनुदान योजना का आवेदन पत्र कहाँ से पायें (How to Get Application Form For Shadi Anudan Yojana)

सरकार ने इस योजना के अंतर्गत एक वेबसाइट तैयार कराई है. पहले किसी कार्यालय से फॉर्म उठाने की वजह से आवेदकों को कई तरह की परेशानियां होती थी. इस वजह से सरकार आईटी स्टेज के माध्यम से आवेदकों तक आवेदन पहुंचाने का काम कर रही है. आप इस योजना के अंतर्गत लाभ प्राप्त करने के लिए इसके औपचारिक वेबसाइट से अपना आवेदन डाउनलोड कर सकते है. आप सबसे पहले इसके औपचारिक वेबसाइट पर जाएँ और वहाँ अपना पंजीकरण ऊपर दिए गये निर्देशों के अनुसार कराये. इसकी औपचारिक वेबसाइट के लिए निम्न लिंक पर क्लिक करें.

http://sspy-up.gov.in/rapv/vivahhetuanudaan/#

इस तरह से कोई आवेदक उपरोक्त निर्देशों का पालन करते हुए इस योजना का लाभ पूर्णतया उठा सकता है.

अन्य पढ़ें –

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *