Thursday , January 17 2019
Breaking News

दीन दयाल उपाध्याय स्वनियोजन योजना | Deen Dayal Upadhyaya Swaniyojan Yojana in hindi

दीन दयाल उपाध्याय स्वनियोजन योजना | Deen Dayal Upadhyaya Swaniyojan Yojana in hindi

भारत सरकार ने आरम्भ से कई योजनाओं का आविर्भाव समय समय पर किया है. समय की आवश्यकता के साथ सरकार द्वारा कई योजनाएं निकाली जा रही है. भारत में विभिन्न आर्थिक स्तर के लोग निवास करते हैं, जिस वजह से यहाँ के लोगों को विभिन्न शर्तों के साथ योजनाओं की आवश्यकता पड़ती है. देश का ग्रामांचल आज भी विकास के साथ अपना तालमेल नहीं बैठा पाता है, इस वजह से इस स्थान पर सरकार अधिक ध्यान देती है. दीनदयाल उपाध्याय स्वनियोजन योजना भारत सरकार के ग्रामीण विकास मंत्रालय द्वारा आरम्भ की गयी योजना है, जो कि ग्रामांचलों के लोगों को स्वरोजगार के लिए आर्थिक सहयोग प्रदान करेगी. यहाँ पर इस योजना सम्बंधित विशेष बातों का वर्णन किया जा रहा है. दीनदयाल उपाध्याय अन्त्योदय योजना यहाँ पढ़ें.

दीन दयाल उपाध्याय स्वनियोजन योजना का लॉन्च (Deen Dayal Upadhyaya Swaniyojan Yojana Launch Date)

यह योजना देश के उन लोगों को नजर में रख कर बनायी गयी योजना है, जो व्यक्ति स्वरोजगार यानि सेल्फ एम्प्लोयीमेंट चाहता है. कई लोग नौकरियों में सटीक नहीं बैठ पाते इस वजह से सरकार ने स्वरोजगार को बढ़ावा देने के लिए इस योजना की शुरुआत की. यह योजना वर्ष 2016 में प्रधानमन्त्री नरेन्द्र मोदी द्वारा लौन्च की गयी थी.

swaniyojan yojana

दीन दयाल उपाध्याय स्वनियोजन योजना के उद्देश्य (Deen Dayal Upadhyaya Swaniyojan Yojana Objectives)

इस योजना के अंतर्गत भारत सरकार ने ऐसी योजना बनाई हैं, जिससे देश से बेरोजगारी की समस्या कम हो सके. यहाँ पर इस योजना के मुख्य उद्देश्य दिए जा रहे हैं.

  • इस योजना के अंतर्गत भारत सरकार लोगों को स्वरोजगार के लिए स्किल सेट देगी.
  • जो लोग ग्रामीण शहरों में स्वरोजगार कर रहे हैं, उन्हें इस योजना के अंतर्गत प्रोत्साहन दिया जायेगा.
  • इस योजना के अंतर्गत स्वरोजगार के लिए ग्रामीण क्षेत्र के लोगों को इंटरप्रेन्योर के लिए आर्थिक सहयोग दिया जाएगा.
  • जो व्यक्ति स्वरोजगार के लिए मौके तलाश रहे हैं, उसे सरकार इस योजना के जरिये सहायता प्रदान करेगी.

दीनदयाल उपाध्याय स्वनियोजन योजना के विशेषताएँ (Deen Dayal Upadhyaya Swaniyojan Yojana Features in hindi)

इस योजना की कई विशेषताएँ हैं, जो कि किसी व्यक्ति को इस योजना के अंतर्गत अपना नामांकन कराने के लिए उत्सुक करेगी. यहाँ पर इस योजना की विशेषताओं का वर्णन किया जा रहा है.

  • यह योजना किसी भी जाति धर्म से परे है, अतः कोई भी व्यक्ति इस योजना के अंतर्गत अपना आवेदन दे सकता है.
  • इस योजना के अंतर्गत सरकार स्वरोजगार करने वालों को रोजगार का आरम्भ करने के लिए लोन भी देती है.
  • इस योजना के अंतर्गत भारत सरकार द्वारा संचालित मुद्रा लोन को सम्मिलित किया गया है. इससे लोगों को लोन पाने में आसानी होगी.
  • इस योजना के अनुसार उन ग्रामीण गरीब लोगों को आर्थिक सहायता दिया जाएगा, जो स्वरोजगार करना चाहते हैं.
  • सरकार ने इस योजना के लिए मुद्रा लोन का चयन किया है. गांव के कई गरीब लोग अपनी आर्थिक स्थिति की वजह से बैंक या किसी अन्य आर्थिक संस्थानों से जुड़ नहीं पाते. इस वजह से उन्हें लोन भी नहीं मिल पाता. किन्तु इस योजना से लोन प्राप्त करने में इन लोगों को आसानी होगी.
  • इस योजना के बहाने कई गरीब लोग बैंक अथवा अन्य आर्थिक संस्थान से जुड़ पायेंगे.

दीनदयाल उपाध्याय स्वनियोजन योजना का निष्कर्ष (Deen Dayal Upadhyaya Swaniyojan Yojana Conclusion)

ग्रामीण इलाकों में आज भी साक्षरता काफ़ी कम है. कई लोग रोजगार के लिए अक्सर ग्रामीण क्षेत्रों से शहरों की तरफ चले आते है, किन्तु शहरों में भी कम पढ़े लिखे होने की वजह से इन्हें अक्सर नौकरी नहीं मिल पाती है. ऐसी स्थिति को ध्यान में रखते हुए भारत सरकार ने इस योजना की शुरुआत की है. इस योजना की सहायता से ग्रामीण क्षेत्रों के लोगों को सरकार आर्थिक सहयोग ऋण के रूप करेगी, ताकि वे ग्राम अंचलों में ही अपने लिए रोजगार उत्पन्न कर सकें. इस तरह से ग्रामीण क्षेत्र के लोगों को शहर आदि जाने की आवश्यकता नहीं होगी. मुद्रा लोन के द्वारा सरकार जो भी लोन देगी, उस पर लोगों को सब्सिडी आदि भी देगी. इस तरह से इन लोगों पर लोन का भार भी बहुत कम होगा.

अन्य पढ़ें –

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *