Wednesday , October 18 2017
Breaking News

प्रधानमंत्री मातृ वन्दना योजना | Pradhan Mantri Matru Vandana Yojana (PMMVY) in hindi

प्रधानमंत्री मातृ वन्दना योजना | Pradhan Mantri Matru Vandana Yojana (PMMVY) in hindi

केन्द सरकार की तरफ से कई तरह की योजनायें निकाली जा रही है, जिसकी मदद से कई जरुरतमंदों की आवश्यकताएं पूरी हो सकती है. तत्कालिक समय में उत्तर प्रदेश सरकार भी योजनाओं को लॉन्च करने में अपनी सक्रियता दिखा रही है. इस समय उत्तर प्रदेश सरकार ने यह तय किया है कि वे अपने प्रदेश की गर्भवती महिलाओं को प्रधानमंत्री मातृ वन्दना योजना के तहत 5000 रूपए आर्थिक सहायता के रूप में देगी.

प्रधानमंत्री मातृ वन्दना योजना की लॉन्च तारीख (Pradhan Mantri Matru Vandana Yojana Launch Date)

देश की गर्भवती महिलाओं को आर्थिक सुरक्षा प्रदान करने के लिए केंद्र सरकार ने इस योजना की शुरुआत की है. इस योजना की शुरुआत वर्ष 31 दिसम्बर 2016 में की गयी थी. इस योजना को हालाँकि लोगों तक पहुंचाने के लिए जागरूकता फैलाने की आवाश्यकता है ताकि अधिक से अधिक लोग इसका लाभ प्राप्त कर सकें.  

PM matru vandana yojana

प्रधानमंत्री मातृ वन्दना योजना की मुख्य विशेषताएँ (Pradhan Mantri Matru Vandana Yojana Features in hindi)

गर्भवती महिलाओं को लाभ प्रदान करने के लिए सरकार द्वारा चलायी गयी इस योजना की प्रमुख विशेषताएँ निम्नलिखित हैं.

  1. सरकार द्वारा इस योजना के तहत राशि किसी भी स्त्री को उसके पहले बच्चे पर प्राप्त हो सकेगी.
  2. सरकार ने इस राशि को तीन इनस्टॉलमेंट में बाँट दिया है, अतः सरकार इस राशि को तीन बार में किसी लाभार्थी को देगी.
  • इस योजना के अंतर्गत किसी गर्भवती महिला के योजना में पंजीकरण कराने पर 1000 रूपए प्राप्त होंगे.
  • इसके छः महीने के बाद पुनः गर्भवती महिला के जांच के बाद उनके अकाउंट में पुनः 1000 रूपए प्राप्त हो सकेंगे.
  • इसके उपरान्त नवजात बच्चे के वैक्सीनेशन के छः महीने के बाद तीसरे इनस्टॉलमेंट में 2000 रूपए महिला के अकाउंट में प्राप्त होगा.
  • इसके अतिरिक्त महिला को लगभग रू 1,400 जननी सुरक्षा योजना के अंतर्गत प्राप्त हो सकेगा.

प्रधानमंत्री मातृ वन्दना योजना के लिए योग्यता (Pradhan Mantri Matru Vandana Yojana Eligibility)

इस योजना का लाभ उठाने वालों के लिए सरकार ने कुछ विशेष योग्यता- मापदंड तैयार किये है, जिसका वर्णन नीचे किया जा रहा है.

  1. इस योजना की शुरुआत सरकार ने ग़रीबों को ध्यान में रख कर की है. अतः कोई भी स्त्री जो केंद्र सरकार के अधीन किसी भी कार्यालय में कार्यरत हो, तो उसका पंजीकरण इस योजना के अंतर्गत नहीं किया जा सकेगा.
  2. जिस स्त्री को इस योजना की ही तरह अन्य किसी योजना के अंतर्गत लाभ प्राप्त हो रहा हो, तो उसका भी नामांकन इस योजना में नहीं कराया जा सकेगा.
  3. इस योजना के अंतर्गत किसी भी गाँव अथवा शहर क्षेत्र की स्त्री अपना पंजीकरण करा सकती हैं.
  4. इस योजना के अंतर्गत अपना पंजीकरण कराने के लिए आवेदक के पास आधार कार्ड और आधार संलग्न बैंक अकाउंट होना आवश्यक है, क्योंकि राशि किसी महिला को उसके बैंक अकाउंट में ही प्राप्त हो सकेगी.

प्रधानमंत्री मातृ वन्दना योजना की प्रक्रिया (Pradhan Mantri Matru Vandana Yojana Procedure)

तात्कालिक सरकार के द्वारा चलाई जा रही इस योजना की प्रक्रिया काफी सरल है. इस योजना में सरकार ने कुल 1.86 लाख करोड़ का बजट तय किया है. यह बजट वर्ष 2017-18 का है. इससे पहले यह बजट वर्ष 2016-17 के दौरान 1.54 लाख करोड़ का रखा गया था. इसके अंतर्गत 15,245 करोड़ रुपये 6 वर्ष के नीचे के कुपोषण के शिकार बच्चों के न्यूट्रीशन के लिए किया जायेगा. इसके अलावा इस बजट के पैसे का प्रयोग महिला शक्ति केंद्र की स्थापना के लिए भी किया जाएगा.

कोई भी महिला अपना पंजीकरण इस योजना के अंतर्गत करा कर योजना का लाभ पूरी तरह से उठा पाएंगी.

निष्कर्ष (Conclusion)

गर्भावस्था के समय किसी भी गर्भवती महिला का ध्यान बहुत अधिक रखने की आवश्यकता होती है ताकि जन्म के बाद बच्चा और माँ दोनों ही स्वस्थ हो. इस कार्य के लिए नियमित पौष्टिक पदार्थों का सेवन गर्भवती महिला को करना आवश्यक होता है. इसके बाद महिला का नियमित रूप से डॉक्टर से चेक अप कराने की आवश्कता होती है. इन सब कार्यों में धन की आवश्यकता होती है. सरकार की इस योजना की सहायता से महिलाओं को कुछ आर्थिक मदद मिल सकेगी ताकि महिलायें अपना ख्याल रख सकेंगी.

भारत में कई बच्चे कमज़ोर पैदा होते हैं. इस योजना की सहायता से इन बच्चों को कुपोषण के शिकार होने से बचाया जा सकेगा और इनका बचपन स्वस्थ रूप से गुजरेगा. इस तरह से सरकार की यह योजना सही तरह से संचालित होती है, तो स्त्रियों को कई तरह के लाभ प्राप्त हो सकेंगे.       

अन्य पढ़ें –

Check Also

ज्ञानोदय योजना झारखंड – शिक्षकों को मुफ़्त टेबलेट वितरण | Gyanodaya Yojana Jharkhand – Free Tablets to Teachers in hindi

ज्ञानोदय योजना झारखंड – शिक्षकों को मुफ़्त टेबलेट वितरण | Gyanodaya Yojana Jharkhand – Free Tablets …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *